ब्रेसेस (दांत में तार – टेढ़े मेढ़े दांत )

ब्रेसेस (Braces) लगवाने के पहले इन बातों का रखें ध्यान!

ब्रेसेस
ब्रेसेस

आज हम आपको बताएँगे ब्रेसेस के विषय में |

आपको जैसे ही अपने बच्चे का कोई दांत टेढ़ा-मेढ़ा या टूटा हुआ दिखता है। तो सबसे पहले आपके दिमाग में आता है बच्चे को , दांत में तार लगवाने का विचार । लेकिन इससे पहले कि आप डेंटिस्ट को ब्रेसेस बनवाने के लिए कहें। पहले आप उनके बारे में जान लीजिए। सेंटर फॉर डेंटल इम्प्लांट्स & एस्थेटिक्स गुरुग्राम का प्रतिष्ठित डेंटल क्लिनिक है यहाँ इम्प्लांट्स और ब्रेसेस ट्रीटमेंट विशेष व्यवस्था है | डॉ अंकिता ब्रेसेस की एक जानी मानी विशेषज्ञ हैं उन्हें लगभग ८ साल का ब्रेसेस का अनुभव है और वह invisalign Certified ऑर्थोडोन्टिस्ट हैं |  

ब्रेसेस लगवाने की सही उम्र क्या है?

वैसे तो दांत में तार लगवाने की सही उम्र 12-13 साल मानी जाती है। लेकिन दांतों के आकार के आधार पर कई बार बच्चों को ब्रेसेस लगवाने से पहले भी कुछ ट्रीटमेंट करानी पड़ सकती है। ऐसी स्थिति में बच्चे को 9-10 साल की कम उम्र में भी braces लगवाने पड़ सकते हैं और हो सकता है कि इससे braces लगाए रखने की अवधि में भी बदलाव किए जाएं। दरअसल बढ़ते हुए बच्चों को braces लगाना अधिक फायदेमंद साबित होता है। अगर बच्चे के मुंह में किसी प्रकार की समस्या का पता चलता है तो डॉक्टर कम उम्र में braces लगाने की सलाह भी दे सकते हैं ।पहले सिर्फ बच्चे ही ब्रेसेस का प्रयोग करते थे लेकिन आज कल ऐसे ब्रेसेस भी उपलब्ध हैं जिन्हे ३५-४० की उम्र वाले बड़े भी पेहेन सकते हैं | ऐसे ब्रेसेस को एडल्ट ब्रेसेस ( Adult Braces ) कहा जाता है | 

ब्रेसेस के कितने प्रकार हैं और उनकी कीमत क्या है?

टीथ ब्रेसेस कॉस्ट इन इंडिया, मुख्यत: तीन प्रकार के braces मिलते है। जो इस प्रकार हैं-

मेटल (metal) ब्रेसेस

यह साधारण दांत में तार और अधिकतर लोग इन्हें ही लगवाते हैं। धातु से बने इन ब्रेसेस को कम से कम एक से डेढ़ साल तक लगाकर रखना पड़ता है। इनकी कीमत रू.२८,000 – ३0,000 के बीच हो सकती है। लेकिन यह एक बार का ही खर्च है। सेंटर फॉर डेंटल इम्प्लांट & एस्थेटिक्स में हम सिर्फ़ ब्रांडेड कंपनी 3M और Damon के बनाये ब्रेसेस का ही प्रयोग करते हैं | हमारे यहाँ सस्ते चीन के बने दांत में तार प्रयोग नहीं किये जाते |

सेरेमिक (Ceramic ) ब्रेसेस

ये आकार और बनावट में मेटल braces की तरह होते हैं। ये सफेद और थोड़े-से पारदर्शी होते हैं और आसानी से दांतों के रंग के साथ घुल-मिल जाते हैं। इस प्रकार के ब्रेसेस रु.४५,००० – ५०,००० तक में मिल जाते हैं। इन्हें एक से डेढ़ साल तक लगाकर रखना होता है। मेटल braces की ही तरह सेरेमिक ब्रेसेस को भी ट्रीटमेंट शुरु होने से ख़त्म होने तक लगाकर रखना होता है। हमारे पास 3m और Damon सिरेमिक braces दिए जाते हैं इनका सबसे बड़ा फायदा ये है की मेटल braces के तरह ये अलग से नज़र नहीं आते और वयस्क भी इनको लगवा सकते हैं ३० से ४० वर्ष की आयु वाले लोग ज़्यादातर इन्हे लगवाते हैं |

अदृश्य इन्विजिबल (Invisible) ब्रेसेस

अदृश्य braces के भी दो प्रकार होते हैं। जिन्हें लिंगग्वल और क्लियर braces के नाम से जाना जाता है।
लिंगग्वल ब्रेसेस – इस तरह के ब्रेसेस दांतों पर लगाए तो जाते हैं लेकिन दांतों के पीछे की तरफ से। इसीलिए ये ब्रेसेस लगे होने के बावजूद दिखायी नहीं पड़ते। इस तरह के ब्रेसेस की कीमत रू. ७०००० – १.२०००० लाख तक हो सकती है।

क्लियर अलाइनर – ये प्लास्टिक (BPA रहित) की बानी ट्रेज होती हैं जिन्हे दांतो के ऊपर पहना जाता है | इन ब्रेसेस की सबसे खास बात यही है कि आप इन्हें निकाल कर दोबारा लगा भी सकते हैं। क्लियर अलाइनर आधुनिक तकनीक से बने ब्रेसेस हैं जो खाना खाते समय या ब्रश करते समय निकाले जा सकते हैं। ये दिखने में पारदर्शी प्लास्टिक के कवर जैसे दिखते हैं। जब आप इस प्रकार के ब्रेसेस लगवाएंगे तो आपको ब्रेसेस के कई सेट दिए जाएंगे जिन्हें दो सप्ताह के बाद बदलना पड़ता है। पहले ये ब्रेसेस भारत में नहीं बनते इसलिए ये काफी महंगे होते थे लेकिन अब भारत में भी कई क्लियर अलाइनर्स बनने लगे हैं । क्लियर अलाइनर्स की कीमत ६०,००० से शुरु होते हैं जो आपकी ट्रीटमेंट के आधार पर तय होते हैं। इंविसालाईन (Invisalign ) USA का क्लियर अलाइनर है जो गुरुग्राम में सेण्टर फॉर डेंटल इम्प्लांट्स के पास उपलब्ध है|

डॉक्टर से कितनी बार और कब-कब मिलना होगा?

मेटल, सेरेमिक और लिंगग्वल दांत में तार लगवाने पर हर महीने स्पेशलिस्ट से मिलना होगा। तो वहीं क्लियर अलाइनर्स लगवाने वाले  2-3 महीने बाद डॉक्टर से मिल सकते हैं। हालांकि, आपको इस बात का ध्यान रखना होगा कि हर दिन 18 – 20 घंटे तक आपको क्लियर अलाइनर्स लगाकर रखना होगा।

क्या खाना चाहिए और क्या नहीं?

अगर आपने मेटल, सेरेमिक या लिंगग्वल braces लगवाएं हैं तो चॉकलेट और मेवे जैसे कठोर और चिपकनेवाले पदार्थ न खाएं। इन्हें खाने से आपके ब्रेसेस निकल सकते हैं। इनके अलावा आप अपनी पसंद की सभी चीजें खा सकते हैं। ब्रेसेस निकालने के तुरंत बाद भी आप जो चाहें वह खा सकते हैं। ब्रेसेस पहनने वाले बच्चो को वैसे खाने-पीने से जुड़ी कोई विशेष सलाह नहीं दी जाती। क्लियर अलाइनर खाते समय नहीं पहने जा सकते|

किन बातों का ध्यान रखना चाहिए?

सबसे महत्वपूर्ण बात है आपके मुंह की साफ-सफाई का ध्यान रखना। हर बार खाना खाने के बाद मुंह ज़रूर धोएं। सुबह और रात में डॉक्टर द्वारा बताए गए विशेष ऑर्थडान्टिक (orthodontic) ब्रश का इस्तेमाल करें। मेटल और सेरेमिक braces लगाने पर हो सकता है कि ये आसपास की त्वचा और मसूड़ों के संपर्क में आ जाएं। इसलिए बार-बार पानी से गरारे करते रहें और मुंह की सफाई का ध्यान रखें।

यदि आप braces के लिए डाक्टरी सलाह लेना चाहते हैं तो आज ही कॉल करें +91 9871631066 सेंटर फ़ॉर डेंटल इम्प्लांट्स & एस्थेटिक्स

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Scroll to top ब्रेसेस (दांत में तार - टेढ़े मेढ़े दांत )
Call Now
Directions